राहुल गाँधी ने मोदी पर फिर हमला किया

नई दिल्ली: कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने गुरुवार को ट्वीट करके एक सिर्फ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर सवाल उठाए, बल्कि चीन से भारत को कैसे

 

इमेज  क्रेडिट :-  गूगल 


 

निपटना चाहिए, इसे लेकर एक वीडियो भी साझा किया.

 

उन्होंने वीडियो के शेयर करते हुए लिखा, ''प्रधानमंत्री का 100 फीसदी फोकस खुद की छवि बनाने पर है.

 

भारत के सभी संस्थान इसी काम को करने में व्यस्त हैं.

 

एक व्यक्ति की छवि एक राष्ट्रीय दृष्टि का विकल्प नहीं है.''ट्वीट किया है, जिसमें वह चीन के साथ निपटने के लिए अपने सुझाव दे रहे हैं.

 

इस वीडियो में राहुल गांधी खुद बोल रहे हैं कि आपको चीनियों के साथ मानसिक मजबूती के साथ निपटना पड़ेगा.

 

राहुल गांधी चीन के साथ संबंधों को लेकर पूछे गए सवालों का जवाब दे रहे हैं.

 

राहुल गांधी बोले- खुद की इमेज बनाने में जुटे हैं PM, देश की सभी संस्थाएं भी कर रही हैं यही काम

 

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) - फाइल फोटो

 

नई दिल्ली: कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने गुरुवार को ट्वीट करके एक सिर्फ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर सवाल उठाए, बल्कि चीन से भारत को कैसे

 

निपटना चाहिए, इसे लेकर एक वीडियो भी साझा किया.

 

उन्होंने वीडियो के शेयर करते हुए लिखा, ''प्रधानमंत्री का 100 फीसदी फोकस खुद की छवि बनाने पर है.

 

भारत के सभी संस्थान इसी काम को करने में व्यस्त हैं.

 

एक व्यक्ति की छवि एक राष्ट्रीय दृष्टि का विकल्प नहीं है.''

 

PM मोदी की नवनिर्वाचित राज्यसभा सांसदों को नसीहत, 'नीतिगत मामलों में अपने को अपडेट रखें'

 

बीजेपी के लिए कांग्रेस ने "आज कौन ड्यूटी पर है" रोस्टर किया पोस्ट, ट्विटर यूजर्स ने दिया ये रिएक्शन...

 

अमेरिकी कंपनियों के लिए PM का संदेश, लॉकडाउन में भारत को मिला 20 अरब डॉलर का निवेश

 

राहुल गांधी ने इस बयान के साथ एक वीडियो ट्वीट किया है, जिसमें वह चीन के साथ निपटने के लिए अपने सुझाव दे रहे हैं.

 

इस वीडियो में राहुल गांधी खुद बोल रहे हैं कि आपको चीनियों के साथ मानसिक मजबूती के साथ निपटना पड़ेगा.

 

राहुल गांधी चीन के साथ संबंधों को लेकर पूछे गए सवालों का जवाब दे रहे हैं.

 

' इस सवाल पर राहुल गांधी बोले, ''यदि आप उनसे निपटने के लिए मजबूत स्थिति में हैं तभी आप काम कर पाएंगे.

 

उनसे वो हासिल कर पाएंगे, जो आपको चाहिए और यह सचमुच किया जा सकता है.

 

लेकिन यदि उन्होंने कमजोरी पकड़ ली, तो फिर गड़बड़ है.

 

पहली बात आप बगैर स्पष्ट दृष्टिकोण के चीन से नहीं निपट सकते और मैं केवल राष्ट्रीय दृष्टिकोण की बात नहीं कर रहा.

 

बेल्ट एंड रोड, यह धरती की प्रकृति को ही बदलने का प्रयास है.''राहुल गांधी ने कहा, ''भारत को वैश्विक दृष्टिकोण अपनाना ही होगा.

 

भारत को अब 'विचार' बनाना होगा और वह भी 'वैश्विक विचार'.

 

दरअसल बड़े स्तर पर सोचने से ही भारत की रक्षा की जा सकती है.

 

जाहिर सी बात है कि सीमा विवाद भी है और हमें इसका समाधान भी करना है, लेकिन हमें अपना तरीका बदलना होगा.

 

इस जगह हम दो राहे पर खड़े हैं.

 

अगर हम एक तरफ जाते हैं तो हम बड़ी भूमिका में आएंगे और अगर दूसरी तरफ चले गए हम अप्रासंगिक हो जाएंगे.

 

क्योंकि मैं देख रहा हूं एक बड़ा अवसर गंवाया जा रहा है. क्यों?

 

क्योंकि हम बड़े स्तर पर नहीं सोच रहे और क्योंकि हम अपना आंतरिक संतुलन बिगाड़ रहे हैं.

 

उन्होंने वीडियो में यह भी कहा, ''जरा राजनीति की तरफ देखिए, दिनभर सारा दिन भारतीय आपस में लड़ रहे हैं और इसका कारण है- आगे बढ़ने के लिए किसी स्पष्ट

 

दृष्टिकोण का नहीं होना और मैं जानता हूं कि प्रधानमंत्री प्रतिद्वंदी हैं.

 

मेरा दायित्व है कि मैं उनसे प्रश्न पूछूं, दबाव डालूं ताकि वो काम करें.

 

उनकी जिम्मेदारी है कि वो दृष्टिकोण दें, जो कि नहीं हो रहा है.

 

चीन की साजिश का खुलासा करने के बाद राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर हमला किया.

राहुल गांधी ने कहा कि चीन जानता है कि नरेंद्र मोदी के लिए मजबूत राजनीतिज्ञ की छवि में बने रहना मजबूरी है.

पीएम मोदी को अपनी 56 इंची छवि की रक्षा करनी होगी.

इसलिए चीन ये संदेश देना चाहता है कि अगर आप वो नहीं करेंगे, जो हम चाहते हैं तो हम नरेंद्र मोदी की मजबूत छवि वाले आइडिया को खत्म कर देंगे.

 

Newest
Previous
Next Post »